डालर के मुकाबले रुपये में उछाल, 55 पैसे की तेजी के साथ 73.57 रुपये पर पहुंचा

मुंबई: लगातार तीसरे दिन तेजी दिखाई दी। घरेलू शेयर बाजार में अच्छी तेजी और वैश्विक कच्चे तेल मूल्य की गिरावट के कारण रुपया कारोबार की समाप्ति पर 55 पैसे उछलकर 73.57 रुपये प्रति डालर पर बंद हुआ।

बाजार सूत्रों ने कहा कि सरकार द्वारा गैर-आवश्यक वस्तुओं के आयात को रोकने तथा विदेशी निवेश को आकर्षित करने के लिए और कदम उठाये जाने की उम्मीद के कारण कारोबारी धारणा में तेजी आई।

सरकार ने गुरुवार को बढ़ते चालू खाता घाटे को कम करने तथा रुपये में तेजी लाने के लिए कुछ निश्चित संचार सामग्रियों के आयात शुल्क को 20 प्रतिशत तक बढ़ा दिया।

अन्तरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में रुपया 73.84 रुपये प्रति डॉलर पर मजबूत खुला जो गुरुवार को 74.12 रुपये पर बंद हुआ था। कारोबार के दौरान निर्यातकों की डॉलर बिकवाली और कच्चे तेल की कीमत घटने के कारण यह 73.52 रुपये तक मजबूत हो गया। 

कारोबार के अंत में रुपया 55 पैसे उछाल के साथ 73.57 रुपया प्रति डालर पर बंद हुआ। यह 19 सितंबर के बाद की सर्वाधिक तेजी है। उस समय रुपये में 61 पैसे की तेजी आई थी।

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों पर आधारित सूचकांक शुक्रवार को 700 अंक की तेजी दर्शाता 19 माह के दौरान एक दिन की सर्वाधिक तेजी के साथ बंद हुआ। यह 732.43 अंक अथवा 2.15 प्रतिशत की तेजी के साथ 34,733.58 अंक पर बंद हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.