अवैध टैंकरों के खिलाफ उप प्रादेशिक परिवहन विभाग की कड़ी निगरानी

अवैध टैंकरों के खिलाफ उप प्रादेशिक परिवहन विभाग की कड़ी निगरानी

अवैध टैंकरों के खिलाफ उप प्रादेशिक परिवहन विभाग की कड़ी निगरानी

गैरजिम्मेदाराना रवैये ने इन्हें खुदगर्ज बना दिया ; मनोज बारोट

आशु विश्वकर्मा / वसई :- वसई तालुका में गैर कानूनी ढंग से चल रहे टैंकरों का मामला प्रकाश में आने के बाद उप प्रादेशिक परिवहन विभाग में इन टैंकरों के खिलाफ मुहिम छेड़ दी है। शहर में अवैध टैंकरों की जांच कर उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वसई विरार शहर में टैंकरों से होने वाले मौत के बाद अवैध टैंकर का सवाल खड़ा हो चुका है। नागरिकों को जलापूर्ति कराने के लिए सैकड़ों टैंकर चलाए जा रहे हैं इनमें से ज्यादातर टैंकर अवैध हैं। नालासोपारा टैंकर एसोसिएशन ने 73 टैंकरों की जानकारी उप प्रादेशिक परिवहन विभाग को सौंपकर कड़ी कार्रवाई की मांग की है। टैंकरों को रास्ते पर आने से पहले उनकी फिटनेस, बीमा, पी टैक्स, ग्रीन टैक्स, पीयूसी आदि कराना आवश्यक है। जिसकी वजह से एक टैंकर के पीछे लगभग 60 से 70 हजार रुपये का सालाना खर्च आता है,लेकिन इन सभी प्रावधानों को नकार कर ये टैंकर रोड पर चल रहे हैं। इनमें से कुछ टैंकर इतने पुराने हो चुके हैं जिनके टायर घिस कर बेकार हो चुके हैं। कुछ तो ऐसे हैं जिनमें क्लीनर ही नहीं है और सेफ्टी गार्ड भी नहीं लगा है। जिसकी वजह से मौत की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। गाड़ी में सेफ्टी गार्ड लगाना आवश्यक है इसके बिना गाड़ी की पासिंग नहीं हो सकती। ये टैंकर गाड़ी को पास न कराकर रास्ते पर आ जाते हैं और कानून का खुला मजाक उड़ाते हैं। वसई के उप प्रादेशिक अधिकारी अनिल पाटिल ने बताया कि इनकी जांच कर इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। गौरतलब हो कि गत दिनों भाजपा के नालासोपारा शहर महासचिव मनोज बारोट ने मौजूदा प्रशासन पर टेंकर माफिया से मिलीभगत का आरोप लगाया था। बारोट ने कहा कि गत माह एक 10 वर्षीय बच्चे की टेंकर दुर्घटना से मृत्यु हो गई थी। उससे पहले एक महिला टेंकर की चपेट में आकर मर गई। एक बालक ने टेंकर दुर्घटना में अपना पैर गवां दिया। इस तरह की कई घटनाएं हैं जो इंगित करती हैं कि टेंकर चालक बेलगाम हो चुके हैं। पुलिस प्रशासन और पालिका प्रशासन के भ्रष्ट और गैरजिम्मेदाराना रवैये ने इन्हें खुदसर बना दिया है। गौरतलब यह है कि तकरीबन 250 टैंकरों है। आधों के पास प्रशासन से कोई प्रमाण नही प्राप्त हुआ है।

TheWestern Volunteer

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account