26/11 के आतंकी हमलों के समय चुनाव जीतने का खेल खेल रही थी कांग्रेस: मोदी

भीलवाड़ा:  आतंकवाद व नक्सलवाद को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि दस साल पहले 26/11 के आतंकी हमलों से जब पूरी दुनिया दहल गयी थी उस समय कांग्रेस राजस्थान में चुनाव जीतने का खेल खेल रही थी। इसके साथ ही मोदी ने कांग्रेस नेताओं पर ‘राजदरबारी, रागदरबारी’ कहते हुए तंज भी कसा।

भीलवाड़ा में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मोदी ने 26/11 के आतंकी हमलों का जिक्र किया। उन्होंने कहा, ‘‘मैं उन रागदरबारियों से पूछना चाहता हूं मैं उस कांग्रेस पार्टी से पूछना चाहता हूं कि 10 साल पहले 26 नवंबर को आतंकवाद की इतनी बड़ी भयंकर घटना घटी, सारी दुनिया हिल गयी थी और कांग्रेस उसमें से चुनाव जीतने के खेल खेल रही थी।’ उन्होंने कहा, ‘‘वही कांग्रेस देशभक्ति के पाठ पढ़ाती थी लेकिन जब मेरी देश की सेना ने पाकिस्तान के घर में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक किया, आतंकवादियों का हिसाब चुकता कर दिया, जब देश की सेना ने इतना बड़ा पराक्रम किया, दुश्मनों को जाकर उसके घर में मारा, ऐसे समय में कांग्रेस ने सवाल उठाया कि वीडियो दिखाओ सर्जिकल स्ट्राइक हुआ कि नहीं। क्या देश की सेना का जवान हाथ में कैमरा लेकर जाएगा जो मौत को मुट्ठी में लेकर निकलता है?

’’ मोदी ने कहा, ‘‘हमने आतंकवाद के खिलाफ ऐसी लड़ाई लड़ी है कि आज उन्हें कश्मीर की धरती के बाहर निकलना महंगा पड़ रहा है।’’ मोदी ने कहा, ‘‘हिंदुस्तान कभी भी 26/11 को भूलेगा नहीं और 26/11 के गुनहगारों को भी। हम मौके की तलाश में हैं। कानून अपना काम करता रहेगा, मैं देशवासियों को फिर से एक बार विश्वास दिलाता हूं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस के नेता सेना के जवानों को मौत के घाट उतारने वाले माओवादियों को क्रांतिकारी होने के सर्टिफिकेट दे रहे हैं। हमने माओवाद को भी उसी की भाषा में जवाब दिया है, आतंकवाद को भी उसी की भाषा में जवाब दिया है। लोकतंत्र में हिंसा का कोई स्थान नहीं होता।’’ मोदी ने ‘संविधान दिवस’ का जिक्र करते हुए कहा कि आज का दिन एक तरह से सवा सौ करोड़ हिंदुस्तानियों के हक का दिवस है। आज का दिवस दलित, पीड़ित, शोषित व वंचितों के गर्व का दिवस है। आज का दिवस सामाजिक न्याय में विश्वास करने वालों के लिए सम्मान का दिवस है।

संविधान निर्माण में बाबा साहेब भीमराम आंबेडकर के योगदान को रेखांकित करते हुए मोदी ने कहा कि बाबा साहेब ने तो समाज के भेदभाव को समाप्त करने का रास्ता दिखाया था।

उन्होंने आरोप लगाया कि संविधान में भी सबको समान अधिकार मिले, न्याय मिले इसका रास्ता दिखाया गया लेकिन ‘‘यह कांग्रेस पार्टी पूछ रही है, नामदार व नामदार के चेले पूछ रहे हैं कि मोदी की जात क्या है। उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान का प्रधानमंत्री अगर अमेरिका जाता है और वहां के राष्ट्रपति उनसे उनकी जात पूछेंगे।’’ जनसभा में उमड़ी भारी भीड़ से उत्साहित दिख रहे मोदी ने कहा, ‘‘इस बार राजस्थान ने ठान ली है कि प्रदेश में फिर एक बार भाजपा सरकार बनाके रहेंगे, विकास की यात्रा को और नयी ताकत देंगे और नयी गति देंगे। और राजस्थान में नया इतिहास लिखने का काम राजस्थान की धरती करेगी इसका मुझको विश्वास है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं जन सागर देख रहा हूं जो उत्साह व उमंग देख रहा हूं उसे उन राजदरबारी व रागदरबारी को देखना चाहिए जो एसी कमरों में बैठकर भाजपा की हार के गीत गाते हैं।’’ मोदी ने राज्य में भाजपा की सरकार एक बार फिर लाने की अपील मतदाताओं से की और कहा कि हम विकास के मुद्दे पर आगे बढ़ना चाहते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘आपने चार-साढे चार साल सेवा का मौका दिया, एक बार फिर पांच साल सेवा करने का मौका दीजिए। मैं आपको विश्वास दिलाता हूं जो काम पिछले 50 साल में नहीं हो पाए हैं… एक बार मुझे आपकी सेवा करने का मौका दीजिए मैं राजस्थान को कहां से कहां पहुंचा दूंगा।’’ मोदी ने कहा, ‘‘मोदी हिसाब मांगता है और मोदी हिसाब देता भी है। पल,पल और पाई पाई का हिसाब देता है।’’

अपनी सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि ‘हमने बैंकों के दरवाजे हर हिंदुस्तानी के लिए खोले, आज हर हिंदुस्तानी का बैंक में खाता है।’’