नालासोपारा पूर्व में भाजपा द्वारा अतिरिक्त पुलिस स्टेशन बनाने की मांग

नालासोपारा पूर्व में भाजपा द्वारा अतिरिक्त पुलिस स्टेशन बनाने की मांग

नालासोपारा पूर्व में भाजपा द्वारा अतिरिक्त पुलिस स्टेशन बनाने की मांग

आशु विश्वकर्मा / नालासोपारा : बढ़ते आपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए भाजपा नालासोपारा शहर महासचिव की ओर अतिरिक्त पुलिस स्टेशन बनाने की मांग की गयी| उन्होंने पुलिस अधीक्षक को पत्र देकर कहा कि पुलिस बल कमी और बढ़ती जनसंख्या के कारण अपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाने में पुलिस के लिए काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है| इसलिए असामाजिक तत्वों पर लगाम लगाने और क्षेत्र को भयमुक्त करने के लिए अतिरिक्त पुलिस स्टेशन बनना आती आवश्यक हो गया है| इसी तरह से भाजपा ठाणे-पालघर विभाग सचिव ने कहा कि अतिरिक्त स्टेशन बनने से पुलिस बल की संख्या में बढ़ोत्तरी के साथ ही आपराधिक घटनाओं पर काफी हद तक नियंत्रीत करने में पुलिस सफल होगी|

ज्ञात हो कि जिले के पुलिस स्टेशनों में नालासोपारा पूर्व और पश्चिम पुलिस स्टेशनों का नाम घटनाओं के कारण काफी चर्चा का विषय बना रहता है| चोरी, हत्या, लूट, ठगी, अपहरण, बलात्कार और महिलाओं की चेन स्नैचिंग आदि घटनाऐं आम सी हो गयी है| नित नयी घटनाओं के कारण नालासोपारा पूर्व का पुलिस स्टेशन अक्सर सुर्ख़ियों में बना रहता है| बढ़ते आपराधिक घटनाओं के कारण अपराधियों के हौसले बुलंद होते दिखाई दे रहे है| वही क्षेत्र में आम नागरिक का जीना मुश्किल सा हो गया है| उनके अंदर एक भय का माहौल बना रहता है और वे अपने को असुरक्षित महसूस करते है| सुरक्षा के नाम पर बने पुलिस स्टेशन और क्षेत्र की पुलिस चौकियों में पुलिस बल की भारी कमी का होना है| तालुका में तीन-तीन उपविभागीय पुलिस स्टेशन तो बनाये गए, लेकिन नए पुलिस स्टेशनों की कमी अभी भी बनी हुई है| गौरतलब है कि वसई तालुका के नालासोपारा पूर्व के क्षेत्रों में तेजी से बढ़ती जनसंख्या है| भारतीय जनता पार्टी के नालासोपारा शहर महासचिव मनोज बारोट ने क्षेत्र की बिगड़ती पुलिस सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस अधीक्षक, पालघर को पत्र दिया गया| उन्होंने कहा कि अलकापुरी, संतोष भवन, प्रगती नगर, गाला नगर और शिर्डी नगर तुलींज पुलिस स्टेशन का सबसे संवेदनशील क्षेत्र माना जाता है| शहर महासचिव ने विभाग को कहा कि तुलिंज को ३ पुलिस स्टेशन में विभाजित किया जाये| इसके तहत प्रत्येक पुलिस स्टेशन के लिए एक-एक वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक की नियुक्ती किया जाये| ताकि आपराधिक घटनाओं के दरम्यान पुलिस कर्मी को अतिरिक्त दबाव का सामना नहीं करना पड़े| और क्षेत्र में आपराधिक को नियंत्रित किया जा सके| उन्होंने कहा कि समय रहते यदि विभाग इस दिशा में ठोस व त्वरित कदम नहीं उठता है तो वह दिन दूर नहीं होगा, जब राज्य में आपराधिक घटनाओं के कारण पालघर जिले की पहचान की जाये| पुलिस व्यवस्था को मजबूत करने को लेकर भाजपा के ठाणे-पालघर विभाग सचिव संजय पांडेय ने भी कहा कि विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को विशेष ध्यान देना होगा| ताकि नागरिकों को भयमुक्त वातावरण देने में पुलिस कर्मी सक्षम बन सके|

TheWestern Volunteer

leave a comment

Create Account



Log In Your Account