अपहृत बच्ची की गुजरात में हत्या, नवसारी रेलवे के शौचालय में मिला शव, आक्रोशित होकर किया पुलिस स्टेशन का घेराव 

अपहृत बच्ची की गुजरात में हत्या, नवसारी रेलवे के शौचालय में मिला शव, आक्रोशित होकर किया पुलिस स्टेशन का घेराव 

अपहृत बच्ची की गुजरात में हत्या, नवसारी रेलवे के शौचालय में मिला शव, आक्रोशित होकर किया पुलिस स्टेशन का घेराव 

नालासोपारा (आशु विश्वकर्मा)। पालघर जिला अंतर्गत नालासोपारा पूर्व के विजय नगर इलाके से पांच वर्षीय बच्ची का अपहरण कर गाला दबाकर उसकी हत्या कर दी गई। पुलिस को गुजरात स्थित नवसारी रेलवे स्टेशन के शौचालय से रविवार की रात अपहृत मासूम बच्ची का शव मिला है। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं मामले में तुलिंज पुलिस को एक सीसीटीवी फुटेज मिला है, जिसमें अपहरणकर्ता बच्ची को पैदल ही ले जाती दिखाई दे रही है। फुटेज के आधार पर पुलिस अपहरणकर्ता महिला का स्कैच जारी कर तलाश में जुट गयी है।

चॉकलेट का लालच देकर किया था अपहरण, पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार नालासोपारा पूर्व के विजय नगर स्थित साई अपर्णा अपार्टमेंट निवासी कुमारी अंजली संतोष सरोज (5) अपने पिता, दादा- दादी के साथ रहती थी। अंजली की मां दो साल से अपने मूल गांव उतरप्रदेश में अपने छोटे बेटे के साथ रहती है। पिता का क्षेत्र में सब्जी विक्री का व्यवसाय है। शनिवार की रात 8 बजे दादा- दादी कमरे थे। अंजली घर के बाहर पड़ोस के बच्चों के साथ खेल रही थी। उसी वक्त एक अज्ञात महिला आई और बच्चों को चॉकलेट देकर अंजली का अपहरण कर लिया। जब काफी देर तक अंजली घर नहीं आई तो परिजनों ने आसपास क्षेत्र में उसकी तलाश शुरू की, लेकिन कहीं भी उसका पता नहीं चला, जिसके बाद देर रात तुलींज पुलिस स्टेशन में उसके अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई गयी।

पूरी घटना सीसीटीवी में कैद, गौरतलब है कि अपहरणकर्ता महिला बच्ची को विजयनगर से नागिनदास पाडा तक पैदल ही ले गयी। यह पूरी वारदात वहां लगे सीसीटीवी में कैद हुई है।  महिला शौचलय में मिला शव , मामले का खुलासा तब हुआ जब रविवार की शाम 5 बजे एक महिला यात्री नवसारी रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक पर बने शौचालय में शौच के लिए गई। महिला ने जैसे ही दरवाजा खोला तो वह एक बच्ची का शव पड़ा देखा। महिला की शिकायत पर रेलवे पुलिस शव कब्जे में लेकर जांच पड़ताल कर ही रही थी तभी पता चला कि वह शव अपहृत अंजली का है। देर रात तुलींज पुलिस अंजली के पिता को नवसारी ले गई, जिसके बाद उन्होंने अपनी बेटी के शव होने की पुष्टि की। सोमवार की सुबह बच्ची की हत्या की खबर परिजनों को मिलते ही घर में मातम छा गया है।

गठित की गई थी पुलिस की पाँच टीम, जारी किया गया था स्कैच,

वहीं अपहरण के तुरन्त बाद पालघर एस पी मंजुनाथ सिंगे ने अपहृत बच्ची की तलाश में पांच टीमें गठित की थी। साथ ही एक चश्मदीद महिला के बताये अनुसार अपहरणकर्ता महिला का स्कैच भी जारी किया था। फिर भी बच्ची को बचाने में सफलता हाथ नहीं लगी।  कुछ दिनों पहले भी हुई थी ऐसी ही घटना , पुलिस पर लगा था आरोप, गौरतलब है कि तुलींज पुलिस स्टेशन क्षेत्र के आचोले रोड स्थित संखेश्वर नगर निवासी एक कपड़ा व्यापारी नरेन्द्र मिश्रा का गत 4 मार्च को अपहरण कर लिया गया था। जिसका 8 मार्च को भिवंडी स्थित पडघा के जंगल में हत्या कर फेंका शव बरामद हुआ था। इस मामले में पुलिस पर भारी लापरवाही और अपराधियों को बचाने का आरोप लगा था। अपहरण और हत्या की बढ़ती घटनाओं को लेकर सोमवार की शाम नागरिकों ने बैनर और पोस्टर लेकर तुलिंज पुलिस स्टेशन का घेराव किया और आक्रोशित होकर पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

TheWestern Volunteer

leave a comment

Create Account



Log In Your Account